Menu
Menu

Category: Uncategorized

સહુને મિચ્છામિ દુક્કડમ…

આ બધાં મનદુ:ખ અને આ આપસના મતભેદ, એક જ પળમાં ચાલો કરીએ બધી ભૂલોનો છેદ, અંતરમનથી શાતા રાખી, કહીએ ચોગરદમ,

विरोधाभास

ऐसा माना जाता है कि बुद्धि का प्रयोग करने से हर समस्या का निवारण मिल जाता है, मिल सकता है.

बुद्धि का प्रयोग

ऐसा माना जाता है कि बुद्धि का प्रयोग करने से हर समस्या का निवारण मिल जाता है, मिल सकता है.

जीवन सार्थक और संपूर्ण होगा!

नदी कभी अपना पानी पीती नहि है. ना कभी कोई वृक्ष अपने ही उगाए फल खाता है. बारिश जो दाने

सोचा भी है कि क्या सोचना है?

नाक और दिमाग में कुछ कमाल की साम्यताएं है. दोनों बहूत ही महत्त्वपूर्ण अंग है लेकिन दोनों को मेनेज करने

प्रार्थना सिद्दिविनायक की…

पाप छूटे और चिंता छूटे, मन में सच्ची करुणा उमटे जीवन को नयी दिशा मिले, जब तेरे दर्शन करते है…

मां

सोचो ये दुनिया क्या होती अगर भगवान के जैसी मां न होती? उसके हाथों की लकीरें जिम्मेदारीओं का बोज़ ढहकर

छेडो़ न कान मोहे

छेडो़ न कान मोहे नटख़ट गोपाल तोहे बंसी की सों तोहे बंसी की सों गोरी दीवानी मोरी राधा रंगीली थोरी सुनियो मोरी

मां सच्ची या सच्चा मैं हूं?

मेरी मां ने कहा था बेटे छोटा है तूं रोज़ ये बाता सोच सोच मैं खुद से पुछूं… मां सच्ची

ROBOT: STRICTLY FOR RAHMAN FANS

Finally, the music of much awaited ROBOT is out. A. R. Rahman’s music coupled with currently rocking lyricist Swanad Kirkire